Tagged: Safar

0

Safar

तुम अगर चाहो तो मेरे साथ चल सकते हो, मेरी तन्हाई को अपनी चाहत मैं बदल सकते हो, कट सकते है ये रास्ते साथ चलते चलते, चाहो तो इन बदलो को बारिशों मे बदल...