Tagged: Father

Story of Many Daughter 0

Story of Many Daughter

Story of Many Daughter बेटी घर -मायका…….. घर का आंगन छोड़ चली वो बागों में त्योहारों में, याद उसे भी कर लेना सुबह-दिन के उज्यारों में, बेटी घर से बिदा होगी जब डोली के...

Accept Daughter in Law as Your Daughter 0

Accept Daughter in Law as Your Daughter

क्यों इतनी तकलीफ देती है जुदाई, क्यों होती है हमेशा बेटी की बिदाई| पालना क्यों छुट जाता है एक पल में, जुदाई के वक़्त क्यों बजती है शहनाई| हँसते हुए रोना आ जाता है...

Parvarish 0

एक पहेली माता -पिता की सहेली – परवरिश

परवरिश तो माँ-पिता सबके ही अच्छी देने का प्रयास करते हैं, फिर क्यों बच्चों की गलतियों पर ताने उनको सुनने पड़ते हैं| जीवन भी एक क्रम दोहराता रहता है, हर बच्चे को किसी का...

0

Father

ये स्ट्रोरी एक पिता की है! जो हमेशा अपने बच्चों (४ बच्चे) के लिए दिन भर और रात भर मजदूरी करता! और हमेशा अपने बच्चों को अछि एजुकेशन देने के लिए प्रयासः करता रहता,...

0

Daughter’s Feeling

पिता का प्यार और माँ की लोरी, इस रिश्ते की रीत क्यों कोरी! परायी क्यों बेटी हर होई, क्यों न रोके जग मे कोई!   हर बेटी पूछे रोई-रोई, क्यों माँ-पापा मैं पराई होई!...