Unconditional Feelings

0
98 views
@GoogleImages

एक सपना था मेरा,
क़ि सिर्फ मुझे तुम जीतो,
क्या पता था इस जीत में,
तुमको जिता कर हम ही हार जायेंगे,

फिर सोचा क़ि सिर्फ तुम ही,
मेरे आंसुओं को पोछो,
क्या पता था,
वो आंसू देने वाले तुम ही होगे,

फिर सोचा कि,
तुम्हें याद करने का हक़ सिर्फ मेरा हो,
क्या पता था,
तुम याद बनकर ही रह जाओगे,

सोचा था मेरे जैसी मोहोब्बत,
तुम्हें कोई और न कर पाए,
क्या पता था,
मेरी मोहोब्बत का तुम इम्तिहान ले जाओगे……..

Leave a Reply