Ye Ashiqui

0
236 views
Ye Ashiqui
Ye Ashiqui

बिन बताये फितरत तुम जान जाओ, बिन कहे मुझे पहचान जाओ,
बस इतनी सी गुजारिश हैं मेरी वफाओं की,
दूर रहकर भी अपनी यादों को सम्हाल जाओ|

Ye Ashiqui
Ye Ashiqui

Leave a Reply