Sweet Relation is Life Love

0
710 views
@GoogleImages

Love

साख से गिरा पत्ता फिर उठने चला,
देख फिर मैं तेरी मोहोब्बत मे लुटने चला|

पता है मुझे- तेरी बेबफाई करने की आदत है,
फिर भी अपना दिल तेरी फुरकत मैं देने चला|

मेरी मोहोब्बत ने किसी सहर का सहारा न लिया,
लेकिन तुझे मैं देने अपना सहारा चला|

फुरसत – ऐ – इश्क हम भी ज़रा करके देखें,
बस यही सोच के दिल मेरा बेचारा चला|

निगाहों की वो तकरार बड़े ज़ोरों की थी,
चोट तुझे लगी, दर्द महसूस मुझे होने चला|

Leave a Reply