Please Back in My Life Again

0
795 views
@GoogleImages

Back in My Life Again

काश तुम पास आ जाओ,
फिर मुझे रुला जाओ|

तेरे बिन मैं खामोश सी हूँ,
फिर मुझे हँसा जाओ|

लड़ते – झगड़ते बिता देंगे हर पल,
फिर मुझे जाम सा झलका जाओ|

साथ तेरा चाहूँ मैं बस,
फिर मेरी धड़कनो को गिनवा जाओ|

सदमें से वास्ता है तेरे जाने के बाद,
फिर इस दिल को प्यार सिखा जाओ|

सपनों की दुनिया मासूम सी है,
पतझड़ के पत्तों को फिर खिरा जाओ|

रातें कटती हैं तारों को गिन – गिन कर,
चाँद की चांदनी फिर फैला जाओ|

सिलसिले जुदाई के खत्म करो न अब,
चंद लम्हे ख़ुशी के दे जाओ|

Leave a Reply