Will Make a New Relation

0
623 views
@GoogleImages

New Relation

चलो इक रिश्ता नया बनाते हैं…

थोड़ा हँसाते – थोड़ा रुलाते हैं,
खुशियों को जोड़ कर ग़मों को घटाते हैं,
चलो इक रिश्ता नया बनाते हैं…

दुश्मनी भूलकर दोस्ती बढ़ाते हैं,
हंसी होठों को देकर आंसुओं को पौछ जाते हैं,
चलो इक रिश्ता नया बनाते हैं…

आज के पलों में भरते हैं रौनक,
अपनी शामों को झिलमिलाते हैं,
चलो इक रिश्ता नया बनाते हैं…

हुई गलतियों को भूल जाते हैं,
दिल से प्यार निभाते हैं,
चलो इक रिश्ता नया बनाते हैं…

विश्वास के धागे से जख्मों को सिल जाते हैं,
मैले हुए मन पर पानी डाल जाते हैं,
चलो इक रिश्ता नया बनाते हैं…

Leave a Reply