Thursday, September 21, 2017

Right or Wrong

ज़िन्दगी कभी ख़त्म नहीं होती, इंसान की उम्मीदे उसको मारती हैं, कहते हैं शरीर मरता हैं लेकिन, बातों मे-यादों मे, हम उस शरीर से ही पहचाने जाते हैं, मतलब शरीर भी नहीं मरता, ये भी कहते हैं आत्मा नहीं मारती, लेकिन आत्मा को देखा ही...
353FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Recent Posts