Saturday, November 18, 2017
Zindgi Poem by Skydstory https://www.youtube.com/watch?v=0j1tgwfAKts&t=3s

Conceptual Love

मुझे तेरा नशा ही काफी है, तेरी मोहोब्बत ही तो आखरी साथी है| मुझे जिसकी सदा से तलाश थी तू ही तो वो बैसाखी है, तेरे यादें मुझे सताती है लेकिन वही मेरे दिल में बाकि है| न पूछों मोहोब्बत कहाँ से मिली...
Please Don't Go

Please Don’t Go

भरोसे की नींव तन्हाई पर रख कर न जाओ, हाथ थाम कर भीड़ में छोड़ कर न जाओ| हो जाएगी ये ज़िन्दगी तन्हा सी मेरी, पास आकर इतना दूर भी न जाओ| क्यों हंसाया जब रुलाना ही था, आंसू पोछ कर आंसू देकर न...
Republic Day 2017

Republic Day 2017

वतन मेरा अनमोल है, क्योंकि गंगा के साथ संगम यहाँ घोल है, नीति इसकी बड़ी निराली, जाति अलग है रक्त सबका हिंदुस्तानी|
364FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Recent Posts